Thursday, 23 January 2020, 7:24 AM

हौसलों की उड़ान

जबलपुर की प्राजक्ता अतनकर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से पूछा सवाल

Updated on 20 January, 2020, 17:50
जबलपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को परीक्षा पर चर्चा 2020 कार्यक्रम में देशभर के बच्चों के पढ़ाई और परीक्षा से जुड़े प्रश्नों के उत्तर दिए। इसमें जबलपुर गढ़ा गंगा नगर केंद्रीय विद्यालय 9वीं की छात्रा प्राजक्ता अतनकर ने भी प्रधानमंत्री से सवाल पूछा, उन्होंने कहा कि विद्यालय में संचालित पाठ्य... आगे पढ़े

छात्रों को वास्तविक दुनिया की चुनौतियों से निपटने में मदद कर रहा यह चेंजमेकर ओलंपियाड

Updated on 20 January, 2020, 5:54
हमारे देश का एजुकेशन सिस्टम नंबर, सर्टिफिकेट और व्यक्तिगत प्रदर्शन के आसपास केंद्रित है और यह सफलता को देखने के हमारे नजरिए पर हावी है। छात्रों को अपने शिक्षकों और माता-पिता की ओर से लगातार बताया जाता है कि वे दूसरों की तुलना में बेहतर ग्रेड प्राप्त करें, दूसरों की... आगे पढ़े

लौकी के प्रोडक्ट्स से प्लास्टिक को रिप्लेस करने की जिद्द

Updated on 18 January, 2020, 7:21
  लेखन - निशा डागर कर्नाटक के मैसूर की रहने वाली सीमा प्रसाद , भारत में लौकी को उसकी असल पहचान दिलाने की कवायद में जुटी हैं। बचपन से ही आर्ट और क्राफ्ट के प्रति दिलचस्पी रखने वाली सीमा को अपनी पढ़ाई के दौरान कभी भी इस क्षेत्र में कुछ करने का मौका नहीं... आगे पढ़े

7 साल तक लड़ दिलाई जीत, सोशल मीडिया बोल रहा बेटी आप पे गर्व है

Updated on 11 January, 2020, 10:27
सीमा समृद्धि कुशवाहा भारतीय वकील और सुप्रीम कोर्ट अधिवक्ता है। जिन्होने निर्भया सामूहिक दुष्कर्म और हत्याकांड मामले का केश लड़ा। 22 जनवरी 2020 को इस मामले से जुड़े हुए सभी दोषियों को फांसी की सजा दी जाएगी।  तो आइए आज इस आर्टिकल मेन हम आपको सीमा समृद्धि कुशवाहा की जीवनी – Seema... आगे पढ़े

बचपन में तारों को निहारते थे, आज छात्रों के लिए स्थापित कर रहे हैं एस्ट्रॉनॉमी लैब

Updated on 31 December, 2019, 6:51
अपने बचपन में आसमान के तारों को निहारने वाले आर्यन आज छात्रों को एस्ट्रॉनॉमी की शिक्षा दिलाने की पहल कर रहे हैं। तंग आर्थिक स्थिति में गुज़रा आर्यन का जीवन आज सबके लिए प्रेरणा है।  एक ओर हम सभी जहां अपने बचपन में अपने पसंदीदा खेल खेलते थे और कार्टून देखते... आगे पढ़े

स्टार्टअप - लोगों के ऑफिसों में जाकर लगाते थे सीसीटीवी, आज हर माह कमाते हैं 50 लाख

Updated on 30 December, 2019, 9:14
2014 में, जुबैर रहमान तमिलनाडु के तिरुपुर में एक सीसीटीवी ऑपरेटर के रूप में काम करते थे। दरअसल कॉलेज से निकलने के बाद 21 वर्षीय इलेक्ट्रिकल और इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर लोगों के ऑफिसों में जाकर अपने परिसर में सीसीटीवी लगाता था। लेकिन उनका दिल कहीं और था। जुबैर अपना खुद का... आगे पढ़े

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाती ये सरकारी योजनाएं

Updated on 25 December, 2019, 8:20
आज देश वुमन डवलपमेंट से आगे वुमन लीड डवलपमेंट की ओर बढ़ रहा है। आज हम महिला विकास से आगे महिला के नेतृत्व में विकास की बात कर रहे हैं। 1. अन्नपूर्णा स्कीम:  इस स्कीम के अंतर्गत फ़ूड कैटरिंग का बिज़नेस करने वाली महिला उद्यमियों को भारतीय सरकार 50, 000 रुपये तक... आगे पढ़े

पत्रकारिता छोड़ बनीं आंत्रप्रेन्योर, पूरी दुनिया में पेश कर रही हैं हस्तशिल्प का बेहतरीन उदाहर

Updated on 24 December, 2019, 8:26
"दिल्ली की रहने वाली महिला उद्यमी सीमा सिंह, जो कि आकाशवाणी के लिए वॉइस आर्टिस्ट रहीं और साथ ही न्यूज एंकर और पत्रकार भी रही हैं। सीमा ने तीन साल पहले यानि कि 17 दिसंबर 2016 को रूट्स टेल की नींव रखी। सीमा की कंपनी रूट्स टेल भारतीय बाजार में... आगे पढ़े

जब एक जागरूक महिला ने खोला चुनाव में खूब पैसा लगाकर अपना घर भरने वाले सरपंच का कच्चा चिट्ठा

Updated on 23 December, 2019, 7:55
सरपंच और पंचायतें एक साथ कार्यपालिका और व्यवस्थापिका भी हैं , बस आप जागरूक बनें, ऐसे व्यक्ति को मतदान न करें जो चुनाव में खूब पैसा खर्च करता हो।  ... आगे पढ़े

अंतरराष्ट्रीय बाजार के हिसाब से कमेंट क्रिएट कर डिजिटल प्लेटफॉर्म पर छाई उर्वी अग्रवाल

Updated on 17 December, 2019, 8:31
नेटफ़्लिक्स, ऐमज़ॉन प्राइम और हॉटस्टार जैसे ऑनलाइन चैनल्स के आने के बाद से देश में कॉन्टेन्ट के बाज़ार का नियंत्रण पूरी तरह से ग्राहकों या यूं कहें कि दर्शकों के हाथ में आ गया है। अब वह जब चाहें अपनी मर्ज़ी के हिसाब का कॉन्टेन्ट देख सकते हैं, लेकिन बैंकर... आगे पढ़े

भारतीय स्वास्थ्य सेवा प्रणाली को बेहतर कर सकता है यह स्टार्टअप

Updated on 17 December, 2019, 8:17
पिछले कुछ वर्षों में, भारतीय स्टार्टअप ने देश की स्वास्थ्य सेवा प्रणाली को बेहतर बनाने के लिए बहुत लंबी छलांग लगाई है। मेडिकल इनोवेशन, सिस्टम के इन महत्वपूर्ण पहलुओं में से एक है। टिश्यू बैंकिंग हेल्थकेयर में इनोवेशन का एक महत्वपूर्ण पार्ट है। दरअसल यह एक प्रक्रिया है जिसमें चिकित्सा... आगे पढ़े

महिलाओं को बिज़नेस करने के लिए आर्थिक मदद देती हैं ये 8 सरकारी योजनाएं!

Updated on 7 December, 2019, 7:31
पिछले कुछ समय में हमारे देश में स्टार्टअप बूम तो हुई ही है और इसके साथ एक और अच्छी बात है और वह है नए उद्यमों के क्षेत्र में महिलाओं की भागीदारी। छोटे, ग्रामीण स्तर से लेकर बड़े शहरों में अपनी पहचान बनाने तक, हर जगह महिलाएं अपनी पहचान बना... आगे पढ़े

पूरे परिवार की मौत के बाद खुद किसानी कर रही यह युवती

Updated on 4 December, 2019, 7:42
इस बहन का नाम मनजीत कोर है पंजाब के गांव जगत सिंह वाला में रहती हैं पिता की मौत हो गई और भाइयो की भी सड़क दुर्घटना में मौत हो गईं बहन ने जमीन बेची नही बल्कि खेती का सारा काम अपने हाथ से करती है पानी लगाना,खाद डालना ट्रैक्टर... आगे पढ़े

“रात पर क्यों हो सिर्फ पुरुषों का अधिकार?

Updated on 3 December, 2019, 7:26
‘रण-रागिनी’, रण की रागिनी, रण का राग गानेवाली, कितनी सुन्दर कल्पना होगी इस नाम के पीछे! लेकिन सच तो यह है कि यह नाम किसी कल्पना से नहीं, बल्कि ज़िन्दगी के रण को रागिनी में परिवर्तित करते संघर्ष की देन है। ऐसा संघर्ष, जो समाज से है, जो पितृसत्तात्मक सोच से है,... आगे पढ़े

गुना की अपर्णा को गूगल ने बनाया तकनीकी सलाहकार;

Updated on 29 November, 2019, 2:56
गुना. राघौगढ़ स्थित जेपी इंजीनियरिंग यूनिवर्सिटी की छात्रा अपर्णा दुबे का चयन दुनिया की पांच सबसे बड़ी कंपनियों में से एक गूगल में हुआ है। हालांकि, अभी उनकी बीटेक (कंप्यूटर साइंस) की पढ़ाई पूरी भी नहीं हुई है। नगरीय प्रशासन मंत्री जयवर्द्धन सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने अर्पणा की... आगे पढ़े

"अनुवादन" में अभी भी स्त्री- चेतना का संचार अधूरा है

Updated on 24 November, 2019, 5:29
 17 नवंबर को चार दिन के लिए चलनेवाला टाटा लिटरेचर लाइव  में लेखक,ट्रांसलेटर और फिल्म क्रिटिक शांता गोखले को  को टाटा लिटरेचर लाइव में लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड से सम्मानित किया गया! शांता गोखले उन कुछ लेखकों में से एक हैं जिन्होंने अंग्रेजी भाषा और साहित्य के बावजूद मराठी साहित्य से... आगे पढ़े

स्मार्ट फोन से भी सुधर सकती है ग्राम की दशा, बस आपको डिजिटल रिपोर्टर बनना होगा

Updated on 24 November, 2019, 4:52
  श्रृंखला पांडे उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले के एक छोटे से गाँव की रहने वाली आँचल (14 वर्ष) ने स्मार्टफोन का इस्तेमाल पहले कभी नहीं किया था लेकिन 2014 में जब वह उनके गाँव में आई, इंटरनेट साथी अर्चना से मिली तो न सिर्फ स्मार्ट फ़ोन का सही इस्तेमाल करना सीख गई,... आगे पढ़े

घर में ही मशरूम की खेती कर बनातीं हैं स्वादिष्ट प्रोडक्ट्स; मिला ‘बेस्ट फार्म वुमन’ का अवॉर्ड!

Updated on 24 November, 2019, 4:46
पश्चिम बंगाल में उत्तर दीनाजपुर जिले के चोपरा ब्लॉक के एक छोटे से गाँव, दंधुगछ की रहने वाली अनिमा मजूमदार को महिंद्रा समृद्धि अवॉर्ड-2019 में ‘बेस्ट फार्म वुमन अवॉर्ड ऑफ़ इंडिया’ के खिताब से सम्मानित किया गया। अनिमा को यह सम्मान मशरूम की अच्छी खेती और प्रोसेसिंग करके मशरूम के उम्दा प्रोडक्ट्स बनाने के... आगे पढ़े

दो दिसंबर को नौसेना को मिलेगी पहली महिला पायलट

Updated on 22 November, 2019, 21:19
कोच्चि। भारतीय सेना में महिला पायलट्स का नाम भी शुमार होने लगा है। वायुसेना की तीन महिला पायलट्स द्वारा मिग-21 उड़ाने के बाद अब बिहार की बेटी वायुसेना में पायलट बनने जा रही है। लगातार कड़ी मेहनत के दम पर अपने मुकाम पर पहुंचने वाली यह बेटी एक नया अध्याय लिखेगी।... आगे पढ़े

संगीत से सामाजिक बदलाव की जिद और दिलों को छूता इन महिलाओं का मिशन

Updated on 21 November, 2019, 8:17
आजसमाज में कई कुरीतियां व्याप्त हैं। समाज का एक धड़ा प्रगति कर रहा वहीं उउसे बड़ा धड़ा आज भी घूघट के पीछे से ताक कर दुनिया का नजारा देख रहा है। इस बीच इन महिलाओं की भूमिका चेंजमेकर का कार्य कर रही हैं  देखें ये स्टोरी video ... आगे पढ़े

सामुदायिक सहयोग से अपने क्षेत्र का विकास खाका तैयार करती है यह अफसर

Updated on 18 November, 2019, 21:21
  निशा डागर  तेलंगाना का पेद्दापल्ली जिला राष्ट्रीय स्वच्छ सर्वेक्षण सर्वे 2019 के अनुसार देश का सबसे ज़्यादा साफ़-सुथरा जिला है। और इस उपलब्धि का पूरा श्रेय जाता है यहाँ की डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर ए. देवसेना को, जिन्होंने साल 2018 की शुरुआत में यहाँ का चार्ज सम्भाला था। सिर्फ़ डेढ़ साल में ही उन्होंने अपने... आगे पढ़े

विजिटिंग कार्ड ने बदली काम वाली मौसी की ज़िंदगी!

Updated on 15 November, 2019, 21:27
पुणे के बावधन इलाके में  रहने वाली गीता काले घर घर जाकर झाड़ू-पोछा, बर्तन व खाना बनाने का काम करती हैं। पर पिछले कुछ दिनों से उन्हें काम पर रखने के लिए पुणे ही नहीं बल्कि मुंबई से भी फोन आ रहे हैं। देखते-देखते ये कॉल्स इतने बढ़ गए कि उन्हें अपना फ़ोन स्विच ऑफ रखना... आगे पढ़े

डिजिटल सहारा लेकर अपने काॅलेज प्रोजेक्ट से दिव्यांगों का जीवन बदल रहे ये विद्यार्थी

Updated on 10 November, 2019, 7:15
हमारे देश की शिक्षा व्यवस्था के प्रयोगिक नहीं होने पर बार -बार सवाल उठाये जाते है। एक सर्वे रिपोर्ट की माने तो ज्यादातर शिक्षा सिर्फ साक्षर करने या प्रमाण आधारित है। लेकिन इस बीच अब डिजिटल माध्यमों ने शिक्षा के क्षेत्र में छात्रों को नई उड़ान दी है। आज ऐसे... आगे पढ़े

नौकरी छोड़ किसान बनीं इंजीनियर,विदेश में भी ट्रेंडिंग कर रहे इनके देशी उत्पाद

Updated on 10 November, 2019, 7:04
खेती-किसानी भारतीय अर्थव्यवस्था की रीढ़ रही है। लेकिन हालिया कुछ सालों में किसानों की दुर्दशा, जड़ किसान नीतियों और कम सुविधाओं ने लोगों को किसानी से मोहभंग कर दिया है। उन्नत तकनीकें किसानों तक पहुंच नहीं पा रही हैं और वो परंपरागत तरीके से खेती करके पर्याप्त कमाई नहीं कर... आगे पढ़े

... रहे या न रहे पर, यह देश रहना चाहिए

Updated on 6 November, 2019, 8:00
आज-कल सरकारी नौकरी में सेवा का भाव कम होता जा रहा है, इस बीच ऐसे भी शासकीय सेवक हैं जो नौकरी को सिर्फ नौकरी न मानकर मानव कल्याण के लिए एक मिशन मानते हैं। आज ऐसी ही एक सरकारी सेविका पश्चिम बंगाल के रघुनाथपुर की एसडीओ (SDO) आकांक्षा भास्कर से मिलाते हैं... आगे पढ़े

अवसाद के अंधेरे से बाहर लाने की पहल... ताकि कोई खुदकुशी न करे

Updated on 19 October, 2019, 7:20
भोपाल. सीबीआई के पूर्व डायरेक्टर की बहन डॉ. अंजलि सहाय ने राजधानी में बढ़ती खुदकुशी की घटनाओं को रोकने के लिए नई कम्युनिटी शुरू की है। इस कम्युनिटी को नाम दिया है आउट ऑफ द डार्कनेस यानी अंधरे से बाहर। बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी, रविंद्रनाथ टैगोर नर्सिंग कॉलेज के छात्रों के साथ-साथ... आगे पढ़े

घर से लाये डिब्बे में तेल, सूती बैग में दाल-चावल ले जाते हैं ग्राहक इस स्टोर से!

Updated on 9 October, 2019, 22:44
अक्सर सुपर-मार्केट या फिर मॉल में आप भले ही सामान के लिए सूती बैग ले जाएँ, लेकिन फिर भी आपकी शॉपिंग एकदम पॉलिथीन-फ्री नहीं हो पाती है। क्योंकि सब्ज़ी या फिर खुले दाल-चावल और भी कई अन्य ज़रूरत की चीज़ें आपको वहां पर पहले से उपलब्ध छोटे-छोटे पॉलिथीन पैकेट्स में... आगे पढ़े

अपने गांव की मिट्टी को शिखर तक पहुंचाने वाली बेटी का घर भी मिट्टी का

Updated on 7 October, 2019, 15:04
                आज महानवरात्र की आखरी रात है। नव दिन के इस शक्ति पर्व में सृष्टि की  सृजनकर्ता  माॅ दुर्गा के नौ रूपों की पूजा की गई। लेकिन इस पर्व से हमें सीख लेना चाहिए की नारी शक्ति वाकई महान है। अगर नारी अपनी जिद... आगे पढ़े

पंचायत बरखेङी अब्दुला की युवा सरपंच जैसे नेतृत्व से ही चमक सकती है भारत की तस्वीर

Updated on 4 October, 2019, 6:29
भारत की अधिकाधिक पंचायत या तो अपनढ सरपंचों के हाथों में है या फिर किसी समानान्तर पतितवादी परंपरा अनुसार चल रहीं हैं। आज भी पंचायतों में शिक्षावादी नेतृत्व देने में हम असफल ही दिख रहे हैं। इसका कारण क्या है आप सब जानते हैं लेकिन इस बीच चलो आज ऐसी... आगे पढ़े

इस पंचायत में माह में दो दिन श्रमदान करना है अनिवार्य

Updated on 4 October, 2019, 6:18
 झारखंड के आरा-केरम गांव में 60 एकड़ जमीन में 3000 ट्रेंच कम बंड (बड़ा गड्ढा) की व्यवस्था की गयी है. यह बहते पानी को रोकने में कारगर साबित हो रहे हैं. आज भी यहां के लोगों द्वारा महीने में दो दिन श्रमदान किया जाता है, ताकि व्यवस्था को और बेहतर किया जा सके. केरम गांव के ग्राम प्रधान रामेश्वर बेदिया प्रधानमंत्री द्वारा... आगे पढ़े